डिजिटल मार्केटिंग क्या है? पूरी जानकारी हिंदी में 2024 :

आज के इस आर्टिकल के जरिए हम जानेंगे कि डिजिटल मार्केटिंग क्या है? दोस्तों जैसा कि आप सभी को पता है कि आजकल हर एक चीज को डिजिटल तौर पर बेचा जा रहा है, इसके पीछे का सबसे बड़ा कारण है कि आजकल Online Users बहुत ही अधिक मात्रा में बढ़ रहे हैं।

आपको जानकर हैरानी होगी कि 80% से भी अधिक लोग जब किसी चीज को खरीदने का निर्णय लेते हैं तो उस प्रोडक्ट के बारे में वह ऑनलाइन रिसर्च जरूर करते हैं, ऐसे में आप अंदाजा लगा सकते हैं कि आज के युग में डिजिटल मार्केटिंग का कितना महत्व है।

अगर आप Digital Marketing के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को आखिर तक ध्यान से पढ़ें, तो चलिए दोस्तों बिना किसी देरी के आर्टिकल को शुरू करते हैं और Digital Marketing Kya Hai के बारे में जान लेते हैं, उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आएगा।

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

#.डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

अगर आप किसी प्रोडक्ट या सर्विस को इंटरनेट, स्मार्टफोन, लैपटॉप, advertisements आदि के माध्यम से ऑनलाइन प्रमोट करते हैं तो उस प्रक्रिया को Digital Marketing कहा जाता है, कुछ समय पहले तक डिजिटल मार्केटिंग को बहुत ही कम इस्तेमाल में लिया जाता था।

लेकिन जब से Internet Users की संख्या बढ़ने लगी है तब से ही Digital Marketing लोगों के बीच अपनी पहुंच बना रही है, डिजिटल मार्केटिंग के जरिए आप अपने किसी भी प्रोडिक्ट या सर्विस को ऑनलाइन बेचकर अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं।

आसान भाषा में कहें तो Digital Marketing एक ऐसी तकनीक है जिसके जरिए आप ग्राहकों तक बड़ी ही आसानी से पहुंच सकते हैं, अगर आप डिजिटल मार्केटिंग सीख लेते हैं तो आप बहुत ही अधिक पैसे कमा सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग कितने प्रकार की होती है?

आज के समय में आपको डिजिटल मार्केटिंग के कई प्रकार देखने को मिल जाते हैं, लेकिन लोगों के बीच डिजिटल मार्केटिंग के निम्नलिखित प्रकार अधिक लोकप्रिय हैं-

#1. Search Engine Optimization (SEO)

डिजिटल मार्केटिंग की दुनिया में लाखों लोग सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन को ही इस्तेमाल करते हैं, इसकी सहायता से कोई भी व्यक्ति या कंपनी अपनी वेबसाइट को गूगल पर बड़ी ही आसानी से शीर्ष पर ला सकती है, आज के समय में डिजिटल मार्केटिंग के जरिए लोगों को SEO करने की सलाह सबसे पहले दी जाती है ताकि उन्हें ज्यादा से ज्यादा लाभ मिल सके।

कंपनियां SEO को इसलिए भी प्रमोट करती हैं क्योंकि यह गूगल की गाइडलाइंस पूरी तरह से फॉलो करता है, Search Engine Optimization की खास बात है कि इसे करने के लिए आपको पैसों की जरूरत नहीं पड़ती है।

आपको बस आवश्यकता होती है तो SEO को बेहतर ढंग से करने की जो कि अपने आप में एक स्किल होती है, आज के समय में अगर आप Digital Marketing की दुनिया में कदम रखने जा रहे हैं तो आपको सबसे SEO करने की ही सलाह मिलेगी।

#2. Search Engine Marketing (SEM)

देखा जाए तो Search Engine Marketing एक तरह से Internet Marketing का ही रूप है जिसके जरिए कंपनियां अपने products का विज्ञापन करने के लिए कुछ पैसे लगाती हैं, SEM के अंतर्गत SEO को भी जोड़ा जा सकता है, हालांकि SEO की तुलना में सर्च इंजन मार्केटिंग बहुत ही महंगी होती है।

हालांकि यहां पर कंपनियां को तुरंत परिणाम देखने को मिल जाते हैं, यही कारण है कि कंपनियां Search Engine Marketing में इतना पैसा लगाने के लिए तैयार हो जाती हैं, इस तरीके में जब कोई व्यक्ति गूगल पर सर्च करने के लिए आता है तो उसे कंपनियों के ads दिखाए जाते हैं, इससे कंपनियों को नए नए ग्राहक जोड़ने में मदद मिलती है और उनका व्यापार भी बढ़ता है।

#3. Social Media Marketing (SMM)

डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में Social Media Marketing को भी बहुत ही अधिक मात्रा में इस्तेमाल किया जाता है, आमतौर पर सोशल मीडिया मार्केटिंग का प्रयोग कंपनियों को एक ब्रांड के तौर पर स्थापित करने, उनके प्रोडक्ट्स बेचने और उनकी आधिकारिक वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ाने के लिए किया जाता है।

सोशल मीडिया मार्केटिंग का अधिक मात्रा में इस्तेमाल इसलिए भी किया जाता है क्योंकि इसके जरिए कंपनियां अपने ग्राहकों के साथ बड़ी ही आसानी से संपर्क बना लेती है और साथ ही में नए लोगों तक भी पहुंचती है, Social Media Marketing की खास बात है कि इसके जरिए कंपनियां सोशल मीडिया पर अपने विज्ञापन को बेहतर ढंग से दिखा पाती है।

#4. Content Marketing

जैसा कि आप नाम से ही समझ गए होंगे कि इस तरीके में कंपनियां ज्यादा से ज्यादा लोगों का ध्यान अपने products और service की तरफ खींचने के लिए Content बनाती हैं, इस तरीके में काफी कम लागत आती है और प्रचार भी अच्छा खासा हो जाता है, क्योंकि आजकल ज्यादातर यूजर्स सोशल मीडिया के माध्यम से बहुत ही ज्यादा कंटेंट कंज्यूम कर रहे हैं, ऐसे में कंपनियां भी इस चीज का फायदा अच्छे से उठा रही है।

#5. Email Marketing

आजकल कंपनियों के द्वारा ज्यादा से ज्यादा ग्राहक जोड़ने के लिए Email Marketing का भी बहुत ही अधिक मात्रा में इस्तेमाल किया जा रहा है, मार्केट में अलग-अलग तरीके होने के बावजूद भी कंपनियों के द्वारा इस तरीके को इसलिए प्रयोग किया जाता है क्योंकि इसके जरिए कंपनियां को बेहतर और तुरंत परिणाम देखने को मिलते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग के इस तरीके में कम पैसे लगते हैं और अधिक ग्राहक जुड़ते हैं, हालांकि इस तरीके को प्रभावी बनाने के लिए आपको पहले से ही योजना बनानी पड़ती है, इसके लिए आप मार्केट में मौजूद ईमेल मार्केटिंग टूल्स का प्रयोग कर सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग के लाभ

आज के समय में आपको डिजिटल मार्केटिंग के बहुत सारे लाभ देखने को मिल जाते हैं लेकिन फायदों की बात करें तो वह कुछ इस प्रकार हैं-

  • जैसा कि हमने आपको बताया कि डिजिटल मार्केटिंग के जरिए आप एक समय में कई लाख लोगों को संपर्क कर सकते हैं, इससे आपके प्रोडक्ट या सर्विस की बिक्री अधिक होती है।
  • डिजिटल मार्केटिंग के लिए आपको अधिक पैसे खर्च नहीं करने पड़ते हैं।
  • डिजिटल मार्केटिंग में आप अपने प्रोडक्ट्स या सर्विस को बेचने के लिए एक निर्धारित ऑडियंस को सेलेक्ट कर सकते हैं।
  • डिजिटल मार्केटिंग को कोई भी व्यक्ति अपने स्मार्टफोन के जरिए बड़ी ही आसानी से कर सकता है।
  • डिजिटल मार्केटिंग के जरिए आप यह आसानी से पता लगा सकते हैं कि आपको SEO टीम क्या काम कर रही है।
  • इसमें कन्वर्जन रेट बहुत ही अधिक होता है ऐसे में आपके प्रोडक्ट या सर्विस के बिकने की संभावना बढ़ जाती है।
  • डिजिटल मार्केटिंग में नौकरी के बहुत सारे विकल्प उपलब्ध हैं।
  • डिजिटल मार्केटिंग के जरिए आप अपने यूट्यूब चैनल या वेबसाइट का प्रचार भी कर सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग के नुकसान

डिजिटल मार्केटिंग के बहुत सारे फायदे तो हैं ही लेकिन साथ ही में आपको डिजिटल मार्केटिंग के दुष्प्रभाव भी देखने को मिल जाते हैं, अगर आप डिजिटल मार्केटिंग में कदम रखने की सोच रहे हैं तो आप डिजिटल मार्केटिंग के नुकसान जानना भी जरूरी है जो कि कुछ इस प्रकार हैं-

  • चूंकि डिजिटल मार्केटिंग में हर तरह की जानकारी को ऑनलाइन शेयर किया जाता है, ऐसे में यहां पर कई बार विवादास्पद जानकारी के प्रसारण का खतरा बना रहता है जिससे यूजर्स के बीच कंपनी की लोकप्रियता में काफी गिरावट देखने को मिलती है।
  • डिजिटल मार्केटिंग की आड़ में स्पैम करने वालों की संख्या भी बढ़ती ही जा रही है।
  • डिजिटल मार्केटिंग के दौरान कई बार कंपनियों का निजी डेटा चोरी या लीक हो जाता है।
  • आज के समय में हर एक कंपनी अपने products और service को बेचने के लिए डिजिटल मार्केटिंग का रास्ता अपना रही है, ऐसे में यूजर्स कई बार यह सेलेक्ट नहीं कर पाते हैं कि कौन सी कंपनी भरोसेमंद है।
  • डिजिटल मार्केटिंग के लिए तकनीकी विशेषज्ञता की जरूरत पड़ती है, इसके बिना व्यवसायी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद नहीं कर
  • सकता है।

डिजिटल मार्केटिंग सैलरी

हमने आपको यह तो बता दिया कि डिजिटल मार्केटिंग क्या होती है, ऐसे में आप जानना चाह रहे होंगे कि Digital Marketing Salary कितनी होती है तो इसके बारे ने नीचे जानकारी दे दी गई है-

नौकरी का पदडिजिटल मार्केटिंग में औसत सैलरी
Digital Marketing Manager6-7 लाख रुपए
Social Media Manager5-6 लाख रुपए
SEO Specialist4-5 लाख रुपए
Content Marketing Specialist4-5 लाख रुपए
Content Writer3-4 लाख रुपए
Pay Per Click / SEM Analyst3-4 लाख रुपए

#. निष्कर्ष : डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

आज की इस आर्टिकल पोस्ट के माध्यम से आपको डिजिटल मार्केटिंग (Digital Marketing) से संबंधित विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान की गई है। काफी सारे लोगों का सवाल रहता है की डिजिटल मार्केटिंग क्या हैं उदाहरण सहित समझाइए तो इस सवाल के जवाब में यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। क्योंकि इसमें आपको डिजिटल मार्केटिंग के फायदे और नुकसान भी बताए गए हैं, डिजिटल मार्केटिंग सैलरी आदि के बारे में भी बताया गया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *