कोरोनावायरस से संक्रमण के लक्षण

कोरोनावायरस से संक्रमण के लक्षण  

  1. कोरोनावायरस से होने वाले संक्रमण के लक्षण क्या है ?

कोरोनावायरस से होने वाली बीमारी COVID-19 के लक्षण सामान्य तौर पर दूसरे दिन से दिखने शुरू हो जाते हैं जबकि कुछ लोगों मे ज्यादा दिन  भी लग जाते है।

संक्रमण होने वाले लोगों के प्रारम्भिक लक्षण:

  • बुखार
  • खांसी
  • सांस लेने में कठिनाई

इसके अलावा भी कुछ ऐसे लक्षण जो कुछ लोगों मे दिख जाते है, जैसे कि:

  • थकान
  • बदन दर्द
  • बहती नाक
  • गले में खरास
  • ध्यान देने वाली बात यह है की इसमे से कुछ लक्षण तो सामान्य फ्लू से मिलते है जो की मौसम के बदलाव के कारण बहुत सामान्य रूप से हो जाता है।
  • इसलिए हर किसी को घबराने की जरूरत नहीं होती है क्यूंकी हो सकता है की यह सामान्य फ्लू के ही लक्षण हो।
  • बस यह जाँच ले की इस दौरान कोरोनावायरस से संक्रमित व्यक्ति से संपर्क मे तो नहीं आए है।

घबराएं नहीं, संयम बनाए रखे क्यूंकी अधिकांश लोग कोरोनावायरस संक्रमण से बिना किसी विशेष चिकित्सा उपचार के बचने मे कामयाब हुए हैं।

  1. वायरस को शरीर मे पनपने मे कितना समय लगता है एवं लक्षण कितने दिनों मे दिखने शुरू हो जाते है ?

वायरस के शरीर मे प्रवेश करने के पहले दिन ज्यादातर मामलों मे बुखार के अलावा कोई खास लक्षण नहीं दिखाई देते हैं।

  • दूसरे दिन से बुखार महसूस हो सकता है। कुछ लोगों को दस्त या मतली / उबकाई भी आ सकती है।
  • दूसरे दिन के बाद से बुखार के साथ थकान, मांसपेशियों में दर्द और सूखी खांसी भी हो सकती है।
  • पाँचवे दिन से मरीजों को सांस लेने में कठिनाई हो सकती है – खासकर यदि वे बुजुर्ग हैं या उनकी स्वास्थ्य की स्थिति पहले से खराब है उन्हे ज्यादा दिक्कत हो सकती है।
  • सातवे दिन तक औसतन संक्रमित मरीजों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत महसूस हो सकती है।

सातवे दिन से औसतन 80% लोगों मे सुधार भी दिखना शुरू हो सकता है। और लक्षण कम होना शुरू हो जाते है।

  • आठवे दिन के बाद गंभीर मामलों वाले रोगियों में एआरडीएस (तीव्र श्वसन संकट सिंड्रोम) होने लगता है। इसकी वजह से सांस लेने मे तकलीफ काफी बढ़ जाती है।
  • दसवें दिन के बाद यदि रोगियों के लक्षण मे सुधार नहीं होता है तो व्यक्ति को आईसीयू में भर्ती करने की संभावना उत्पन्न हो जाती है। कई मरीजों मे पेट के दर्द और भूख में कमी की शिकायत भी होती है।
  • बारहवें दिन अधिकांश मरीजों मे बुखार समाप्त होने की स्थिति मे आ जाता है जबकि खांसी बनी रह सकती है।
  • चौदहवे दिन आते आते मरीज की खांसी भी खतम होने लगती है किन्तु जिन मरीजों के लक्षण मे कोई सुधार नहीं दिखता उनका इस स्थिति के बाद उबर पाना बेहद मुश्किल हो जाता है।
  • सत्रहवे दिन औसतन, वायरस से उबरने वाले लोगों को (2.5 सप्ताह के बाद) अस्पताल से छुट्टी दे दी जाती है।
  1. यदि आपको संदेह हो रहा है की आपको संक्रमण हो गया है तो क्या करे ?

यदि आपको लगता है कि आपके अन्दर COVID-19 के लक्षण हैं, तो घर पर रहते हुए सरकार द्वारा दिए गए हेल्पलाइन नंबर +91-11-23978046 (Central Helpline Number for corona-virus) पर संपर्क करे अथवा यहाँ पर अपने राज्य की हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करें, यदि किसी वजह से हेल्पलाइन नंबर पर बात नहीं हो पा रही तो अपने डॉक्टर से बात करें यदि आवश्यक हो तो घर पर डॉक्टर को बुलाकर या अस्पताल जाकर पूरी और सही जानकारी बताएं:

  • आपके पास किस प्रकार के लक्षण हैं
  • आपके लक्षण कितने गंभीर हैं
  • हाल ही में आप विदेश यात्रा से लौटे हैं या किसी ऐसे व्यक्ति से संपर्क किया हो जो विदेश यात्रा से कुछ दिनों पहले वापस आया हो
  • या किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क मे किसी अन्य प्रकार से आए हो

आप की जाँच तब ज्यादा अहम हो जाती है जब:

  • आपके लक्षण गंभीर हैं
  • आप एक बुजुर्ग हैं
  • आपकी उम्र बेहद कम है
  • आप एक गर्भवती महिला हैं
  • आपका स्वास्थ्य पहले से अच्छा नहीं चल रहा है
  • आप COVID-19 वाले किसी व्यक्ति के संपर्क में या गए हो

आपका डॉक्टर यह निर्धारित करेगा कि आपको COVID-19 टेस्ट की आवश्यकता है या नहीं और किस प्रकार का उपचार सबसे अच्छा है।

यदि आपके लक्षण हल्के हैं और आपके पास कोई अंदरूनी स्वास्थ्य स्थितियां गंभीर नहीं हैं, तो डॉक्टर की सलाह माने, घर पर ही रहकर आराम करे, अच्छा खाएं, समुचित मात्रा में पानी पियें और सबसे अहम बात अन्य लोगों से सीधे संपर्क से बचे।

यदि इन सब के बाद भी आपको कोई सुधार नहीं दिखता है एवं सांस लेने मे भी तकलीफ बढ़ने लगती है तो तुरंत डॉक्टर को सूचित करे, साथ ही तत्काल चिकित्सा के तहत देखभाल बहुत जरूरी है।

  1. क्या चीन या अन्य देश से आए समान को छूने या इस्तेमाल करने से संक्रमण हो सकता है ?

यह तो ज्ञात है कि कोरोनावायरस तांबे पर चार घंटे, कार्डबोर्ड पर 24 घंटे तक और प्लास्टिक और स्टेनलेस स्टील पर दो से तीन दिन तक जीवित रह सकता है। शोधकर्ताओं ने यह भी पाया कि यह वायरस हवा से नीचे गिरने से तीन घंटे पहले तक बूंदों के रूप में घूम सकता है। लेकिन ज्यादातर वायरस जल्दी से गिर जाते हैं। इसलिए यह कहना की चीन से आए सामान से संक्रमण बिल्कुल नहीं हो सकता तो यह गलत होगा। हाँ इस बात संभावना इसलिए कम हो जाती है क्यूंकी जब तक आपके पास चीन से सामान पहुंचता है तब तक तो वायरस मर चुका होगा।

(अधिक जानकारी के लिए वेबसाईट चेक करते रहिए – जल्द ही पोस्ट किया जाएगा)
  1. कोरोनावायरस को समझे  (प्रश्न 1 से 9)- (यहाँ पढ़े)
  2. कोरोनावायरस से बचाव (प्रश्न 10 से 13) – (यहाँ पढ़े)
  3. कोरोनावायरस से संक्रमण के लक्षण (प्रश्न 14 से 17) – (ऊपर पढ़े)
  4. शरीर मे कोरोनावायरस के संक्रमण को कैसे पहचाने
  5. कोरोनावायरस का इलाज
  6. बच्चों, बूढ़ों, महिलाओं अथवा पुरुष, ध्यान दें
  7. कुछ भ्रांतियाँ – (यहाँ पढ़े)
  8. भारत बनाम कोरोनावायरस महामारी
  9. फैक्ट चेक (कितनी सच्चाई) – (यहाँ पढ़े)

Latest Blog Post

Disclaimer: The information above is collected from internet and various newspaper articles and is indicative in nature, please correlate with the information provided by The Government, Doctors, Health Organisation or any other person or institution who has been authorised before proceeding to use it.

Share & Show Care

2 thoughts on “कोरोनावायरस से संक्रमण के लक्षण”

Leave a Comment

Your email address will not be published.